हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना 2022 | Haryana swamitav yojana – apply online

Haryana Mukhyamantri swamitav yojana 2022 apply| हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन |Haryana swamitav yojana application form |

जैसा की आप सभी लोग जानते हैं कि राज्य में बहुत से ऐसे लोग हैं जिनके पास मकान या दुकान पर कब्जा होने के बाद मालिकाना हक नहीं रहा है। ऐसे सभी नागरिकों को उनका हक दिलाने के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया। इस योजना के अंतर्गत सभी नागरिकों को उनका हक दिया जाएगा और जो गांव लाल डोरे के अंतर्गत आते हैं उन सभी गांव पर कार्य किया जाएगा। अगर आप भी इस परेशानी से जूझ रहे हैं तो आपको हम अपने इस लेख के माध्यम से योजना से संबंधित सभी जानकारियां प्रदान करेंगे ।

हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना क्या है ?

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा हरियाणा स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत हरियाणा के सभी नागरिकों को मालिकाना हक प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए दुकान एवं मकान 31 दिसंबर 2020 तक 20 साल से अधिक कब्जा होना चाहिए। इस योजना के माध्यम से यह मालिकाना हक उन्हें कलेक्टर रेट से कम राशि का भुगतान करके लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत मालिकाना हक के लिए कलेक्टर रेट पर अधिकतम 50% की छूट दी जाएगी। इस योजना के माध्यम से लगभग 25000 लोगों को लाभ पहुंचेगा।

हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना

330 गांव लाल डोरे से मुक्त

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं हरियाणा स्वामित्व योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा किया गया था। जिस पर हरियाणा सरकार बहुत तेजी से कार्य कर रही है। इस योजना के अंतर्गत अब तक कुल 6309 गांव कवर किए गए हैं। जिनमें से 300 गांव लाल डोरे से मुक्त किए गए हैं। स्वामित्व योजना के तहत 1345000 से ज्यादा संपत्ति कार्ड तैयार हो चुके हैं। जिनमें से चार लाख संपत्ति कार्ड वितरित किए जा चुके हैं।

मालिकाना हक पर कलेक्टर रेट छूट

कब्जे की अवधि कलेक्टर रेट में छूट
20 साल 20%
25 साल 25%
30 साल 30%
35 साल 35%
40 साल 40%
45 साल 45%
50 साल या फिर 50 साल से अधिक 50%

Haryana swamitav yojana objective (उद्देश्य) –

हरियाणा मुख्यमंत्री स्वामित्व योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि राज्य की सभी नागरिकों को उनका मालिकाना हक प्रदान कराना है। सभी व्यक्तियों का 31 दिसंबर 2020 तक 20 साल या उससे अधिक का कब्जा है सभी व्यक्तियों को मालिकाना हक प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत लाभार्थियों के जीवन स्तर में सुधार आएगा । इस योजना के माध्यम से नागरिकों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए कारगर साबित होगी और उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

हरियाणा स्वामित्व योजना की पात्रता व शर्तें

  • सर्वप्रथम लाभार्थी को हरियाणा का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है ‌।
  • आवेदक के पास मकान तथा दुकान का 31 दिसंबर 2021 तक 20 साल या उससे अधिक का कब्जा होना चाहिए।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

Haryana swamitav yojana documents (दस्तावेज)

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • सेल्फ सर्टिफाइड लेटर
  • बिजली का बिल
  • उप किराएदार इ का समझौता पत्र
  • किराए की रसीद
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इन्हें भी पढ़ें :-

Haryana Mukhyamantri swamitav yojana की आवेदन प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको Haryana swamitav yojana की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रजिस्टर हेयर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपको अपना नाम, ईमेल आईडी तथा मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद आपको जनरेट ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त हुआ होगा। उस ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करें
  • उसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • उसके बाद आपको होम पेज पर जाकर सिटिजन लॉगइन करना होगा।
  • उसके बाद आपको अप्लाई नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • उसके बाद आप आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी और आवेदन पत्र में बताए गए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज साथ में अटैच करके अपलोड कर दें।
  • इसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.